Hindi Short Stories with Pictures

Hindi Short Stories with Pictures

In this post we have written Short Stories for kids and we have tried to add more images in this stories as compare to our other posts, which will help to understand the stories easily and with more clarity. Reading stories with Pictures is the best way to attract attention and easy to understand. Pictures stories makes great impact on your kid’s brain and can remember for a longer time.

Hindi-short-stories-with-pictures
दो साधू

दो साधू

(Hindi Short Stories with Pictures)

एक गाँव में दो साधू अपनी अपनी झोपड़ियों में रहते थे।

रोज़ सुबह के वक़्त वह दोनों गाँव में घरघर जाकर भिक्षा मांगते थे।

और उसके बाद पूरा दिन पूजा-पाठ करते थे।

एक दिन भारी तूफान आने के कारण दोनों साधुवों की झोपड़ियां जगह जगह से टूट गई थी।

पहला साधू यह सब देख कर दुखी हो गया|

पहिले साधु ने बोला, हे ईश्वर ! तूने मेरे साथ यह अनर्थ क्यों किया।

क्या मेरी भक्ति और पूजा में कोई कमी रह गई थी?

Hindi-short-stories-with-pictures
दो साधू

इस तरह वह पूरा दिन अपने आपको कोसते हुए, एक पेड़ के नीचे जाके बैठ गया।

तभी वहाँ दूसरा साधू आजाता है, और अपनी बर्बाद जोपड़ी देखकर वह मुस्कुराने लगता है,

और उसी वक्त ऊपरवाले का धन्यवाद करता है।

दूसरे साधु ने कहा कि, ऐसे तूफान में तो पक्के मकान भी क्षतिग्रस्त हो जाते हैं,

पर तूने तो मेरी आधी झोपड़ी बचा ली। 

इससे ये पता चलता है कि तू मेरी भक्ति से कितना प्रसन्न है,

और तू मुझपर कितनी बड़ी कृपा बनाये रखा है।

 

सिख – “हर घटना के दो पहलू होते हैं। बुरा अर्थ निकालना या फिर अच्छा अर्थ निकालना यह दोनों ही आपके हाथों में होता है”।

Hindi-short-stories-with-pictures
सोने का अंडा

 

सोने का अंडा

(Hindi Moral Short Stories with Pictures)

एक गाँव में एक किसान के हाथ एक ऐसी मुर्गी लग जाती है, जो रोज़ सोने का एक अंडा देती है|

वह उस अंडे को रोज़ बेचने जाता और कुछ ही दिनों में वह देखते देखते ही अमीर हो गया|

वह अब गाँव में सबसे ज्यादा अमीर हो चुका था|

Hindi-short-stories-with-pictures
सोने का अंडा

उसके पास अब बड़ा घर,ज्यादा खेत और घोड़ो का अस्तबल हो गया था|

एक दिन किसान ने सोचा की मुर्गी रोज़ सिर्फ एक ही अंडा देती है,

क्यों ना मै उसके पेट को काट कर सारा अंडा एक साथ ही निकल लूँ|

फिर क्या था उसने मुर्गी को काट दिया और जो एक अंडा रोज़ मिलता था,

किसान उससे भी हाथ धो बैठा|

 

सिख – “लालच बुरी बाला है”|

Hindi-short-stories-with-pictures
चीटीं और कबूतर

चीटीं और कबूतर

(Hindi Short Stories with Moral and Pictures)

एक समय की जबात है, एक जंगल में एक चीटी और एक कबूतर रहते थे|

एक दिन चीटी पेड़ पर से  निचे तालाब में गिर गई|

अपनी जान बचाने की बहुत कोशिश करने लगी, तभी पेड़ से कबूतर ने उसे पानी में डूबता हुआ देखा|

तो उसने चीटी की जान बचाने के लिए, पेड़ से एक पत्ता तोड़ कर तालाब में फेक दिया|

चीटी उस पत्ते पे चढ़ कर तालाब के किनारे पहुच गई| और उसने कबूतर का धन्नेवाद किया|

कुछ समय बाद एक बहेलिया जंगल में आया| बहेलियों का तो काम ही होता है पक्षियों को पकड़ना|

Hindi-short-stories-with-pictures
चीटीं और कबूतर

उसने कुछ दाने जंगल में एक जगह फैलादिया और उसपर जाल बिछा दिया|

फिर बहेलिया किसी पक्षी के फसने का इंतज़ार करने लगा|

तभी चीटी वहां आजाती है, और देखती है कि जिस कबूतर ने उसकी जान बचाई थी|

वही उस बहेलिये की जाल में बिछे दाने को खाने जा रही है|

चीटी झट से जाकर बहेलिये को इतनी ज़ोर से काटती है की बहेलिये की चीख निकल जाती है|

बहेलिये की आवाज़ सुनकर कबूतर सतर्क हो जाती है| और वो वहां से दूसरी ओर उड़जाती है|

इस तरह कबूतर की भी जान बच जाती है|

 

सिख – किसी का भला करने से अंत में हमारा भी भला ही होगा| “कर भला तो हो भला “|

Hindi-short-stories-with-pictures
चतुर मुर्गा

चतुर मुर्गा 

( Short Moral Stories in Hindi with Pictures)

बहुत समय पाहिले किसी जंगल में एक लोमड़ी रहती थी|

लोमड़ी बहुत चालाक थी, वह जानवरों को अपनी बातो में फसा लेती थी फिर उन्हें मारके खा लेती थी|

लोमड़ी को कुछ दिनों से खाने को कोई शिकार नही मिला था| इसीलिए वो जंगल में शिकार ढूंढने लगी|

तभी उसे एक पेड़ पर एक मुर्गा दीखता है, वो बहुत खुश हो जाती है|

पर लोमड़ी पेड़ पर चढ़ नही सकती थी|

इसीलिए मुर्गे को पेड़ से उतारने के उपाय सोचने लगती है|

लोमड़ी मुर्गे से बोलती है कि आपके लिए एक खुश खबरी है|

तो मुर्गा उससे पूछता है की कैसी खुशखबरी?

इस पर लोमड़ी बोलती है कि स्वर्ग से कुछ देर पाहिले आदेश आया है,

की अब से सरे पशु पक्षी साथ में रहेंगे और कोई भी किसी को भी नही मरेगा,

Hindi-short-stories-with-pictures
चतुर मुर्गा

और सरे जानवर मिलजुल कर रहेंगे|मुर्गे को उसकी बात पर ज़रा भी भरोसा नही होता है,

और वह वही पेड़ पे ही बैठा रहता है|

लोमड़ी बोलती है की अब आपको भी हमसे डरने की कोई जरुरत नही,

अब हम साथ में भी घूम फिर सकते है| मुर्गा लोमड़ी की चल को समझ जाता है|

मुर्गा बोलता है की आपके भी मित्र आपसे मिलने के लिए आरहे है|

लोमड़ी मुर्गे से पूछती है की मेरे कोंसे मित्र आरहे हैं|

मुर्गा बोलता है की शिकारी शेर, यह सुनकर लोमड़ी एकदम से घबरा जाती है,

और झट-पट वहाँ  से भाग जाती है|

मुर्गा अपनी सूझ-बुझ से लोमड़ी का खाना बन्ने से बच जाता है|

 

सिख – “हमें कभी भी अजनबियों पर तुरंत बरोसा नही करना चाहिए”|

Hindi-short-stories-with-pictures
एक गलत इच्छा

एक गलत इच्छा

(Hindi Moral Stories with Picture)

एक बार एक मधुमक्खी ने ईश्वर को प्रसन्न करने के लिए एक बर्तन में शहद इकट्ठा किया,

और ईश्वर के सामने प्रस्तुत किया।

ईश्वर मधुमक्खी के भेंट से बहुत प्रसन्न हुए, और उससे कहा कि वह जो चाहे इच्छा करे,

उस इच्छा को जरूर  पूरा किया जाएगा।

मधुमक्खी यह सुनकर बहुत प्रसन्न हुई और बोली, “हे ईश्वर, अगर आप सचमुच मुझसे प्रसन्न हैं,

तो मुझे यह वरदान दें कि मैं जिसे भी डंक मारूं, वह दर्द से तड़प उठे। 

Hindi-short-stories-with-pictures
एक गलत इच्छा

ईश्वर यह सुनकर बहुत क्रोधित हुए, ”और पूछा क्या इसके अतिरिक्त कोई और इच्छा नही है तुम्हारी।

मधुमक्खी ने कहा नही ईश्वर बस यही एक इच्छा है मेरी, ईश्वर ने कहा,

मैंने वादा किया है कि तुम्हारी इच्छा पूरी करूंगा, परंतु मेरी भी एक शर्त है।

मधुमक्खी से ईश्वर ने फिर कहा, वह यह कि तुम जिसे डंक मारोगी उसे तो बहुत दर्द होगा,

परंतु तुम भी तुरंत मर जाओगी।”इतना बोलकर इशेर वह से चले गए।

 

सिख – जो दूसरों का बुरा चाहते हैं, उनका भी बुरा ही होता है।

Hope you like our Hindi Short Stories with pictures also for more stories like these check our related post section. If you like our stories don’t forget to share it with your friends and family and relatives. If you have any suggestions do let us know in the comment box.

 

ये भी ज़रूर पढ़े:

 

 

Leave a Comment